दोस्त की गर्लफ्रैंड का सील तोड़ा, चुदाई में मदद

Antarvasnax Indian Sex Story – सभी लण्ड धारी लड़को और चूत पे गुरुर करने वाली लड़कियों को मेरा नमस्कार है। मैं मुकेश आज आपको एक सेक्स की कहानी बताने वाला हूँ। ये मेरी खुद की और मेरे दोस्त के साथ मिल के एक लड़की की चुदाई की कहानी है। दोस्तो मैं भी रोजाना हिन्दी सेक्स स्टोरी पढ़ने का शौकीन रहा हूँ। इसलिए मेरे मन मे भी ख्याल आया कि अपनी भी एक सेक्स की दास्तां आप सबके सामने प्रतुत की जये।

तो ये कहनी है 1 साल पहले की मैं उस वक़्त 19 साल का था। मैं 17 के उम्र से ही सेक्स करने का आदि हो चुका था। मेरी एक गर्लफ्रैंड बन गई थी जिसके साथ मैं सेक्स किया करता था। मैं अपने दोस्तों के ग्रुप में सबसे पहला था जिसने सेक्स किया था। मैं अपनी सेक्स की बात इससे पहले की कहानी में बतायी भी है। तो मैं अब सेक्स करने में माहिर हो चुका था।

एक बार मेरे एक दोस्त मनीष ने एक गर्लफ्रैंड बना लिया अब उसे चुदाई करने का भूत चढ़ा हुआ था। एक उसे ये मौका मिल ही गया उसका घर एक दिन के लिए खाली हो गया था। वो अपनी गर्लफ्रैंड को लेके अपने घर ले आया था। लेकिन 1 घण्टे के बाद उसका कॉल आया मुझे की भाई मेरे घर आ सकते हो। मैं सोचा क्या प्रॉब्लम हो गयी कही ये चोद चोद उसकी चूत फ़ार दिया है।

मैं कुछ देर में उसके घर पाउच गया उससे पूछा क्या हुआ तो वो बताया कि उसका तो लण्ड ही अंदर नही जा रहा है। ये बात सुन के तो मुझे हसी आ गई। लेकिन मैंने अपने हसी को बर्दाश्त किया। उससे पूछा कि कही तू चूत की जगह गण्ड में तो नही डाल रहा था। वो बोला नही भाई मैं चूत में डालने की कोसिस किया लेकिन लण्ड अंदर ही नही गया।

मुझे अंदर ही अंदर बहोत हसी आ रही थी। वो बोला भाई तू तो इसमें माहिर है बता न कोई उपाय अब मुझे भी समझ नही आ रहा था कि ये कैसे हो सकता है। जबतक मैं सोच रहा था तबतक वो बोला कि चल तू खुद से देख ले। मैं तो ये सुन के चौक गया कि ये लड़का क्या बोल रहा है। मैंने बोला कि मैं देख तो लू लेकिन उसे कोई दिक्कत नही क्या, वो बोला अरे वो तो चुदने के लिए परेसान है। मुझे कोई उपाय नही मिला तो मैं तुम्हे बुलाया हूँ।

उसके बाद वो मुझे रूम में अंदर लेके गया। उसकी गर्लफ्रैंड नंगी सोई हुई थी मुझे देख उठ के बैठ गयी और दुप्पटे से खुद को धक ली। मेरा दोस्त बोला कि इसे अपनी चूत दिखाओ। बात ये थी कि दोनों का पहली बार सेक्स था तो दोनो कोई खास जानकारी नही था। वो लड़की चूत दिखाने में सकपका रही थी। उसे मेरे सामने आने से सर्म लग रहा था।

दोस्त मेरा उसका दुप्पटा हटा दिया और उसे कीच लिया। उंसने उसकी टांगे फैला दी थी। वो लड़की थोड़ी शामली थी लेकिन दिखने में सुन्दर थी। उसका बदन भरा भरा हुआ था उसकी चुचिया बड़ी बड़ी गोल मटोल थी। उसकी चूत एकदम बन्द थी। मैंने उसकी चूत पे हाथ फेरा और एक उंगली उसकी चूत में डाल दिया। उसकी आआह निकल गयी वो ऊऊह ओह्ह करने लगी थी।

मैं समझ गया कि ये सील पैक माल है। उसकी चूत में बहोत टाइट होने के कारण दोस्त का लण्ड अंदर नही गया होगा। मेरा लण्ड खड़ा हो गया था और मेरे मन मे अभी इसकी सील तोड़ने की लालसा जग गयी थी। काफी दिनों के बाद मुझे सील तोड़ने का मौका मिल रहा था जिसे मैं छोड़ना नही चाहता था। मैंने दोस्त से बोला कि मुझे अब इसकी चूत की सील को खोलना होगा तभी तेरा लण्ड अंदर जयेगा।

वो थोड़े देर सोचने के बाद बोला कि अगर इसके अलावा कोई उपाय नही है तो खोल दी इसकी सील को लेकिन आज मुझे चुदाई करनी है। नही तो फिर ऐसा मौका कभी नही मिलने वाला है। वो बोला देख इस चक्कर मे मैं कितने कंडोम बर्बाद कर चुका हूं अब तू ही कुछ कर की मेरा लण्ड अंदर चला जये।मैंने बोला तू अपना लण्ड दिखा जरा उसका लण्ड जुका हुआ था तो मैंने बोला कि इसे खरा कर।

वो हिला हिला के खरा करने लगा कुछ देर में उसका लण्ड खरा हो गया था। उसका लण्ड का साइज तो थिक ठाक था लेकिन उसका लण्ड उतना टाइट नही हुआ था। उसके लण्ड में ढीला पन था। मैंने उसे साइड कर के उसके बारे में बताया। अपना लण्ड उसे पकड़ा के बोला देख मेरा लण्ड और अपना लण्ड कितना फर्क है। उसने बोला तो क्या मैं चुदाई नही कर सकता हूँ।

मैंने कहा चुदाई तो कर सकता है लेकिन उससे पहले मुझे तेरी गर्लफ्रैंड की चूत चोद के दिला करना पड़ेगा। मेरा दोस्त मान गया अच्छा ठीक है चल आज तू मेरी गर्लफ्रैंड को भी चोद ले लेकिन मुझे चुदाई करवा दे। उसके बाद वो अपनी गर्लफ्रैंड को बोला कि ये तुम्हरी पहले चुदाई करेगा उसके बाद मैं करूँगा। वो मना करने लगी बोली नही मैं इसके साथ सेक्स कैसे कर लूं।

मैं तो बस तुमसे प्यार करती हूँ। दोस्त ने बोला कि अगर मुझसे प्यार करती हो तो पहले इससे चुदाई करनी होगी। तभी मैं तुम्हे सेक्स का आनंद दे सकता हूँ। मेरे दोस्त के बहोत कहने के बाद वो मान गयी। फिर मेरा दोस्त बोला चल भाई अब इसकी सील को तोड़ दे। मैं काफी दिनों ओ बाद सील तोड़ने के लिए एक्ससिटेड था।

अब मैं उसकी तांगे फैला दिया और चुदाई के लिए तैयार हो गया। मेरा दोस्त बोला भाई कंडोम पहन लें मैंने कहा टेंशन न ले ये प्रेग्नेंट नही होगी। उसे बोला कि बस तू इसे कस के पकड़ ले और इसकी मुह बन्द रखना। मुझे पक्का पता था कि ये जोर से चिल्लाने वाली है। साथ मे ये हाथ पैर भी बहोत मारेगी। एक तो ये सील पैक ऊपर से इसकी टाइट चूत थी।

दोस्तो ये सेक्स की कहानी ज्यादा लम्बी न हो इसलिए मैं इसका अगला अध्याय इसके दूसरे पार्ट में लिख रहा हूँ। जिसमे मैंने और मेरे दोस्त ने मिल के उसकी जोरदार चुदाई की साथ मे मैंने उस लड़की की गांड भी मार ली।

New Antarvasnax Sex Story In Hindi

Leave a Comment