कॉलेज की रंडी सोनाली की चुदाई

Hindi Sex Stories – हेल्लो दोस्तो, मैं वरुण आप सभी हिन्दी सेक्स स्टोरी पढ़ने वालों के साथ मैं अपना भी एक सेक्स का एक्सपीरियंस बताने वाला हूँ। ये बात है मेरे कॉलेज के दिनों की जब मैं नया नया कॉलेज में स्नातक की पढ़ाई करने गया था। मैंने अपनी 12 तक कि पढ़ाई अपने गौ से ही पूरी की है। लेकिन आगे की पढ़ाई के लिए मुझे सहर आना पड़ा था।

मैं सहर आ गया और एक कमरा लेके रह रहा था। मैं अकेला ही रहता था और बस पढ़ाई में ध्यान रहता था।। लेकिन मेरी सेक्स के प्रति बहोत रुचि थी। मैं रोज रात को सेक्स वीडियो देखता या हिन्दी सेक्स स्टोरी पढ़ता था। मैं मूठ मार के सो जाता था। लेकिन आज तक मैंने कभी सेक्स नही किया था।

जब मैं कॉलेज में गया तो मेरे बहोत सारे दोस्त बने वो सब बहोत मॉर्डन थे। वो लोग पब डिस्को जाते थे। वो लोग मेरे सामने सेक्स के बारे में भी खूब बाते करते थे। मेरे सारे दोस्त ने सेक्स कर लिया था सिर्फ मुझे छोड़ के, मेरे भी मन में सेक्स करने की इच्छा जग गयी थी। लेकिन मेरी कोई गर्लफ्रैंड नही थी।

एक दिन मेरे एक दोस्त ने मुझे कहा कि तुम किसी को क्यों नही पटा लेते हो। तुझे सेक्स करने को मन नही करता है क्या, मैंने बोला करता तो बहोत है लेकिन मुझसे ये लड़की नही पटने वाली है। तब उसने बोला कि ऐसा कर की तू अपने कॉलेज की एक लड़की है। जिसका नाम सोनाली है, वो दिखने में भी अच्छी है और बहोत सेक्सी भी है। बस तुझे उसके पीछे ख़र्चा करना होगा। मैं बोला कि पैसों की दिक्कत नही है। लेकिन उससे बात कैसे होगी। वो बोला कि उसका टेंशन तू न ले मैं वो देख लूंगा। बस तू अपनी पाकेट भर लेना।

मैं अच्छे फैमिली से था तो पैसों की कोई दिक्कत नही थी। मेरे दोस्त ने बोला चल आज मूवी चलते है और आज तेरी सेटिंग करवा दूंगा। वो अपनी गर्लफ्रैंड के साथ बोला कि सोनाली को ले लेने के लिए। वो उसे ले आयी उसे बस एंजॉयमेंट से मतलब था। हम सब मूवी देखने चले गए। मेरा दोस्त और उसकी गर्लफ्रैंड कोने के सीट में टिकट लेके बैठ गए। मैं सोनाली के बगल में बैठा था। हमारे बीच बस हाय हेल्लो ही हुआ।

तब हम एक अच्छे होटल में खाने गए। उस सब का खर्च मैं उठा रहा था। सोनाली का पहले से बॉयफ्रेंड था लेकिन जो लड़का उसके पीछे पैसे उड़ाता वो उसके साथ लग जाती थीं। मैंने भी कोई कमी नही की ऐसा दिखया जैसे मेरे पास बहोत पैसे है। फिर मेरे दोस्त ने बोला कि तू सोनाली को घर छोड़ दे। मैं अपनी बाइक पे लेके चल दिया। वो मेरे कमर पकड़ के
बैठी थी। मैं जब भी ब्रेक लगता वो मेरे पीठ से आके चिपक जाती थी।

उसे घर छोड़ा उसने मुझसे मेरा नम्बर मांग लिया। अब जब मैं रूम वे आया तो उसका कॉल आय औऱ उस दिन मैं और सोनाली खूब बात किये। वो बोली हमारे बीच बात होती है ये बात किसी को नही बताना। मैंने भी सोचा मुझे तो बस सेक्स करने से मतलब है। 2 दिन के बाद सिर्फ मैं और सोनाली घूमने गए। उसे मैंने शॉपिंग करवाया। उसे गिफ्ट दिया चॉकलेट ख़िरीद दिया। फिर हम मूवी के प्लान बनाये।

आज हम दोनों अकेले थे। मैं कुछ करने से दर रहा था। तभी उसी ने मुझे किश कर दिया। तब मेरी हिम्मत बढ़ी और मैं भी उसे किश करने लगा। हम दोनों मूवी छोड़ के किस करने में मसलूल थे। मेरा हाथ उसकी चुचियो पे गया तो वो बोली ये जगह ये सब के लिए ठीक नही है। मैं बोला कि तो तुम मेरे साथ मेरे रूम चलो। वो एक बार मे मान गयी। हम आधी मूवी में निकल गए । वो मेरे साथ बाइक पे थी और रास्ते में मेरे गर्दन और मेरे गालो पे किश कर रही थी।

मैं अपने रूम पे पाउच गया। उसे लेके अपने रूम में गया। हम दोनों बहोत एक्ससिटेड थे। मैंने गेट बंद किया और हम दोनों के किसिंग चालू हो गया। हम एक दूसरे को चूमे जा रहे थे। किश करते हुए मेरे हाथ उसकी चूची पे चले गए। उसके टीशर्ट के ऊपर से मैं दबा रहा था। वो गर्म होने लगी थी और मेरा लण्ड तो एकदम खड़ा हो गया था। मैंने उसे किस करते हुए बेड पे लेता दिया। उसके ऊपर लेट के उसे किश करने लगा।

वो मुझे उलट के ऊपर आ गयी। मेरे शर्ट के बटन को खोल दी और अपना टीशर्ट उतार के फेक दी। वो भी अब पूरे मूड में आ गयी थी। आज वो अपना एक्सपेरिएंस मेरे साथ करने वाली थी। मैं तो पहली बार कर रहा था लेकिन वो तो खेली हुई खिलाड़ी थी। वो मेरे सीने पे चुम रही थी और उसने मेरे सीने में काट भी लिया था। वो मेरे सीने पे लेती मैंने उसके ब्रा का हुक खोल दिया। उसने ब्रा को भी खोल के फेक दिया। मेरे सीने से सट के लेती थी और मेरे गर्दन कान सभी जगह किस कर रही थी। उसके अंदर की हवस की लव फूट गयी थी। मैं उसकी पीठ को सहला रहा था।

अब वो मुझे चूमते हुए नीचे आयी और मेरा पैंट खोल दी। उसने मेरे पैंट को निचे किया और मेरा लण्ड निकाल के बोला तुम्हरा लण्ड बहोत मस्त है। वो मेरे लण्ड को चुसने लगी थी। मुझे चरम सुख मिल रहा था। अब मैं उठा अपना सारा कपड़ा खोल दिया। अब मुझे उसे चोदने की आग लगी हुई थी। मैंने उसका जीन्स खोल के नीचे किया और पेंटी को भी खोला।

अब दोनों पूरे नंग अवस्था मे थे। उसने मुझे बेड पे धकेल दिया और मेरे ऊपर आ गयी। मेरा लण्ड खरा होके उसे सलामी दी रहा था और उसकी चूत को बुला रहा था। वो मेरे ऊपर आयी और मेरे लण्ड को अपने चूत में डाल लिया। वो कभी आगे पीछे करती तो कभी ऊपर निचे। मैं उठा उठा के धका दे रहा था। वो मेरे आगे जुकी मैं उसका चूची पकड़ के दबा रहा था और वो गांड हिला हिला के चुदवा रही थी।

फिर मेरा जोश और बढ़ गया और उसे पलट के मैं उसके ऊपर आया उसके टांगो को उतया और लण्ड पेल दिया। वो आआह की और बोली चोद मेरे राजा चोद और चोद के मेरी चूत फार दे। मैं बस ये बात सुन के उसकी चूत को भोसड़ा निकलने लगा।मैं ऐसे ऐसे धके दे रहा था कि उसका मुँह खुल जा रहा था।उसकी आँखें लाल हो गयी थी। मैं इतने दिनों के अपने अंदर भरे आग को बुझने लगा था। करीब 30 मिनट तक धका धक चुदाई के बाद मैं उसकी चूत में झर गया। तब तक वो भी झर चुकी थी।

उसके बाद तो सेक्स होता गया जब तक हम दोनों थक के पस्त न हो गए। उस दिन के बाद से सोनाली मेरी रंडी हो गयी थी। वो अक्सर मेरे से ख़र्चा करवाती थी। मेरे रूम पे आके चुदती थी। मैं उसका गांड भी मरता था। 2 साल तक वो मेरे साथ रही। मेरे से क्लास में 1 क्लास सीनियर थी तो कॉलेज से चली गई। उसने कॉलेज के बाद दूसरे मुर्गे को फसा लिया और मेरा भी मन भर गया था क्योंकि उसकी चूत एकदम ढीली हो गई थी। अब उसे चोदने में मजा नही था। तो दोस्तों ये थी मेरी पहली स्टोरी, मिलते है अगली स्टोरी में जिसमे मैंने कॉलेज में आई नई लड़की को चोदा।

Some Hot Hindi Sex Stories

Leave a Comment