लॉकडाउन मे साली का सील तोड़ा

हेल्लो दोस्तो मै राजीव शर्मा आपके सामने फिर से हाजिर हु इक नई कहानी के साथ जिसमे मै बताने वाला हु किस तरह लॉक डाउन होने के कारण अपनी साली को चोदा। मेरी उम्र 29 साल है। मै प्राइवेट कंपनी मे काम करता हु । मै अपनी पत्नी के साथ रहता हूं। मेरी सादी 1साल पहले हुई मेरे है सहर के दूसरे गऊ मे।

अब मै स्टोरी पे आता हूं। तोह बात 1महीना पहले की है जब लॉक डाउन स्टार्ट हुआ। लॉक डाउन होने से पहले मेरी साली का ग्रेजुएशन का एग्जाम चल रहा था तो वो एग्जाम देने आयी हुई थी। लेकिन कोरोना वायरस फैलने के कारण एग्जाम रद्द हो गया और फिर लॉक डाउन हो गया। जिसके कारण मेरी साली मेरे ही घर पर रुक गयी।

लॉक डाउन होने के कारण मै भी घर पे ही रहता था। तो मै और मेरी साली आपस मे खूब हसी मज़ाक किया करते थे, और मस्ती भी किया करते थे। हमारे बीच कभी कभी एडल्ट मज़ाक भी हो जाया करता था जिससे उससे भी कोई दिक्कत नही था और न है मुझे।

तो दोस्तो अब मैं अपने साली के बारे मे आप सब को बता देता हूं।मेरी साली का नाम पूजा है। मेरी साली का उम्र 21साल है। दिखेने मे इकदम गांव की गोरी चीटी छोरी साथ मे सेक्सी फिगर के साथ हॉट लुक । उसका फिगर 30″32″26 है भले ही वो गांव की छोरी हो लेकिन कोई उसके बदन को देख ले तो किसी को उसे चोदने का मन कर जयगे।

हुआ कुछ यूं इक दिन हर रोज की तरह मेरी पत्नी नास्ता बना के हम दोनों को बुला रही थी तो मेरी पत्नी ने कहा जाओ पूजा को बुला लाओ । मै जौसे ही उसके रूम में गया देखा की पुजा नहा कर अपने बाथरूम से निकल रही है। उसने सिर्फ टॉवल लपेट रखा था। और उसने मुझे नही देखा की मै उसके गेट पे खड़ा हूँ।

पूजा ने अपने अपना टॉवल हटा दिया मै तो देखता ही रह गया। मेरा तो देखते ही लण्ड खरा हो गया अचानक उसकी नजर मेरी ऊपर परी और वो चौक गयी और टॉवल से खुद को ढक लिया । मै भी डर गया मै सॉरी बोल के बाहर चला गया और उसे आवाज दिया पूजा नास्ता तैयार है खाने के लिए निचे आ जाओ। वो बोली ठीक है आप चलो मैं तैयार होके अति हूँ।

पूजा तैयार होक नास्ता करने आ गयी। उसने वाइट कलर का सूट पहनी थी।क्या मस्त माल लग रही थी, लेकिन मेरे नजर के सामने तो उसका गोरा बदन आ रहा था। मै उस मंजर को भूल ही नही पा रहा था। हमने नास्ता किया और फिर टीवी देखने लगे मैने ध्यान दिया पूजा मुजसे नजरे चुराने लगी। सायद वो मुझसे सरमा रही थी। कुछ देर बाद उसने कहा की मै अपने रूम में जा रही हूं। तो मेरी पत्नी भी काम मे लग गयी। थोरे देर बाद मै पूजा के रूम में गया। मै उससे कहा की क्या हुआ पूजा तुम मुझसे नजरे चुरा रही हो। तो उसने कहा की कुछ नही जीजा जी , मैंने बोला क्या तुम सुबह की बात को लेके सोच रही हो

तो उसने कुछ नही बोला और अपने नज़रे झुका ली। मैंने बोला की तुम समाओ नही जो सुबह हुआ उसे बस मै और तुम जानते है, और वो भी गलती से हुआ। तो उसने बोला कोई बात नही और फिर हम बाते करने लगे। एक दो दिन बीत गए लेकिन मेरे अंदर पूजा के साथ सेक्स करने की तलब जग उठी थी |

एक दिन पूजा अपने रूम मे आराम कर रही थी मै उसके रूम में गया तो देखा की पोज मोबाइल चला रही थी। मै पूजा के पास गया और बैठ के बात करने लगा, बातो बातो मे मैने उसका हाथ पकड़ लिया उसने कुछ नही कहा फिर फिर धीरे धीरे मेरी हिम्मत बढ़ी और उसके पीठ पे हाथ फेरने लगा। तो पूजा ने कुछ कहा तो नही लेकिन वो संकोच जाता रही थी। फिर मैने उससे पूछ दिया क्या तुमने कभी किसी के साथ किश किया है।

उनसे बोला नही जीजा जी मै एकदम सीधी लड़की हु मैने आज तक ऐसा कुछ नही किया। तो मैने झट से उसके होठ पे होठ रख दिया और उसे किश किया। पूजा अचानक से उठ गई और कहने लगी जीजाजी ये सब आप क्या कर रहे है, मुझे ये सब ठीक नही लगता। मैने कहा पूजा आज न कल तो करना ही है तुम्हे अपने पति के साथ उसी का एक्सपीरियंस पहले दे देता हूं।

उसने बोला नही जीजाजी ये ठीक नही होगा,दीदी आ जयेगी कोई देख लेगा मुझे बहोत दर लगता है।। तो मैने भी जिद नही किया क्योंकि कभी भी मेरी बीवी आ सकती थी। मैने पूजा से बोला कोई बात नही अगर तुम्हरा मन नही तो, तो उसने बोला ऐसी बात नही मुझे डर लगता है।

तो मैने प्लान बनाया कुछ, मै अपनी बीवी को रोज रात को चोदता हु, लेकिन उस रात मैने मैनफोर्स की दवा कहा ली और मैने जान बूझ के अपने रूम का गेट खुला छोर दिया। मै अपनी बीवी को पूरे जोश मे चोदने लगा जिससे मेरी बीवी बहोत जोर जोर से आह आह की आवाज निकाल रही थी जोकि पूरे घर मे सुनाई दे रही हो, अपनी दीदी की आवाज सुन पूजा रूम के गेट पे आयी वो मुझे चोदते देख गेट पे रुक गयी, मैने देख लिया की पूजा गेट पे खरे हो के हमारे चुदाई क़ा मज़ा ले रही थी, मै भी अनजान बन के अपनी बीवी को चोदता रहा।मैन ध्यान नही दिया पूजा कब चली गयी।

अगले दिन मैं पूजा के रूम मे गया, और मैने उससे पूछा कल रात तुम मेरे रूम के गेट पे क्या कर रही थी, वो सरमा गयी और अपनी नज़रे नीचे कर ली। मैने पूजा से बोला क्या हुआ अगर तुम हा कहो तो हम दोनों भी ऐसा कर सकते है ओर तुम्हरी दीदी को पता नही चलेगा। पूजा ने कोई जवाब नही दिया,लेकिन मैने उसकी आँखों मे हा का जवाब देखा। मै समझ गया की इसे भी चुदाई करनी है।

उस रात मैने प्लान बनाया इक, मेरी बीवी का सिर कुछ भारी लग रहा था, तो मैने उससे बोला तुम दवा ले लो। मैने सिर दर्द की दवा के साथ उसे नींद की दवा दे दी। कुछ ही देर मे वो काफी गहरे नींद में चली गयी। मै वहाँ से पूजा के रूम में चला गया। वो जगी हुई थी, वो मुझे डेल्हा के बोली जीजाजी आप अभी यहाँ, तो मैने बोला तुम टेंशन न लो तुम्हरी दीदी नही आने वाली है वो काफी गहरे नींद में है और सुबह से पहले नही उठने वाली है।

फिर मै पूजा के बगल मे जाके बैठ गया और उसे अपनी ओर कीच के अपने गले से लगा लिया और उसे पागलो की तरह किश करने लगा। उसके बाद मैने उसे बेड पे लिटा दिया और उसके बदन के साथ खेलने लगे उसे भी अच्छा लग रहा था। फिर उसकी बूब्स को सहलने लगा वो सिसकारियां लेने लगी। मैने उसकी टीशर्ट उतार दी, पूजा ने काले रंग की ब्रा पहन रखी थी। मै ब्रा के उपर से उसका बूब्स दबाने लगा और पूजा आहे भरने लगी। पूजा की बदन की खुशबू मुझे मदहोश कर रही थी। मै और भी जोश में आ गया और उसके पूरे बदन को चूमने लगा।

उसके बाद मैने अपने भी कपड़े उतार दिया और पूजा को भी पूरा नंगा कर दिया। उसकी चूत इकदम गुलाबी थी उसकी चूत पे थोरे से बाल थे पूजा को इस तरह देख, मेरा 7 इंच का लण्ड पूरा खरा हो गया। मैने पूजा को अपना लण्ड चूसने को बोला लेकिन वो माना करने लगीतो मैने भी ज्यादा जिद नही किया क्योंकि ये सब उसके साथ पहली बार था। फिर मै उसकी बूब्स दबा रहा था और चूस भी रहा था। पूजा भी मज़े ले रही थी अब बारी थी उसकी चूत की जिसका मै सील तोड़ने वाला था।

मैने क्रीम लेके आया और अपने लण्ड पे लगा लिया और उसकी चूत के ऊपर भी लगा दिया मेरे उंगली डालते ही उसके मुंह से आह निकली और उसने मेरा हाथ हटा दिया। अब मै अपना लण्ड उसकी चूत के ऊपर रख दिया और बोला तैयार हो जानेमन। उसके हा कहते ही लण्ड डाला लेकिन उसकी चूत बहोत टाइट थी। 2 इंच अंदर जते ही उसे दर्द होने लगा ओर उसने कहा जीजाजी बाहर निकालो दर्द हो रहा बहोत। लेकिन मैंने उसकी एक नही सुनी और एक जोर का धका लगया ओर लण्ड पूरा अन्दर कर दीया।

पूजा रोने लगी और बोलने लगी मुझे दर्द हो रहा निकलो इसे, मैने बोला डरो नही कुछ नही होगा, पहले थोड़ा दर्द होगा बाद मे तुम्हे भी मज़ा आएगा। मै थोरे देर वैसे ही लण्ड अंदर डाल के रुका रहा जब देखा की उसका दर्द कम हुआ तो मैने लण्ड अंदर बाहर करने लगा। मैने देखा मेरे लण्ड पे खून लगा हुआ है। मै समझ गया की पूजा की सील टूट चुकी है।

अब धीरे धीरे उसे भी मज़ा आने लगा था और झर भी चुकी थी। लेकिन मेरा नही हुआ था, मै और जोर से चोदने लगा। हमारी चुदाई की आवाज पूरे घर मे गुज रही थी। अब मै भी झरने वाला था और मै उसकी चूत मे झर गया। थोरे देर मै वैसे ही लेता रहा और फिर से मेरा मूड बन गया और इस बार मै उसे कुतिया बना के चोद रहा था और अब तो वो मेरा पूरा साथ दे रही थी। मै बेफिक्र होके चोदे जा रहा था। मुझे पता था मेरी बीवी आने वाली तो थी नही। उस रात मैने पूजा को चोदने के उसे उसके कमरे मे सुला दिया और मै अपने कमरे मे आके सो गया।

सुबह जब देखा तो पूजा को चलने में दिकत हो रहा था उसकी दीदी ने उससे पूछा क्या हुआ तो उसने बहना बना दिया बाथरूम मे गिर गई थी। मेरी और देख के स्माइल किया और अब हमें जब भी मौके मिलता है सेक्स कर लेते है। तो कैसी लगी मेरी स्टोरी। नेक्स्ट स्टोरी मे बताऊंगा कैसे मैन साली और बीवी को एक साथ चोदा

ऐसी ही कुछ और कहानियाँ

Leave a Comment