लॉकडाउन में मिल गयी घर के बगल में चूत

Lockdown me Chudai – हेल्लो दोस्तो, मेरा नाम आदर्श है। मेरी उम्र 21 साल है। मैं उत्तरप्रदेश के गोरखपुर का रहने वाला हूँ। ये बात मई 2020 की है जब पूरे देश के लॉकडौन हों गया था तब मैंने सेक्स का मज़ा लिया। मैं बैगलोर में रह के पढ़ता था। लॉकडौन होने के कारण काफी दिनों के बाद मैं घर आया था। पहले तो मैं मुझे घर मे ही रहना था कुछ दिन के लिए। तो मैं घर से बाहर नही जा रहा था कही। वैसे तो मुझे घर पे कोई दिकत नही हो रहा था। बस मुझे चूत नही मिल रही थी। क्योंकि बंगलोर में मेरी गर्लफ्रैंड थी तो उसके सात अक्सर सेक्स करता था। लेकिन घर आते ही मैं चूत चोदने को तरसने लगा।

Muskan Ki Lockdown Me Chudai

Muskan Ki Lockdown me chudai

एक दिन सुबह सुबह मैं छत पे घूम रहा था कि मेरी नज़र एक लड़की पे गयी। वो लड़की बहोत सुन्दर लड़की थी। मैं उसे देख पहली नज़र पसन्द कर बैठ था। वो भी अपने छत पे घूम रही थी। लेकिन उसने मेरी ओर नही देखा। तब मैंने अपनी छोटी बहन से पूछा वो को है तो वो बतायी की, वो मुस्कान दीदी है। वो भी कुछ दिन पहले कोटा से आई है।

मुझे विस्वास नही हुआ कि वो मुस्कान है। उसे मैंने 3 साल बाद देखा था। वो अब तो दिखने में एकदम माल हो गयी थी। पहले वो एकदम पतली दुबली थी और अब तो उसकी बरे बरे बूब्स हो गए थे। मेरे दिल को वो भा गयी थी। मैंने उससे पटाने की सोची की जबतक इस लॉकडौन मे यहाँ हूँ, क्यों न इसे अपनी गर्लफ्रैंड बना ली जाए। मैंने अपने बहन की फेसबुक से उसका आईडी पता कर ली। उसे रिक्वेस्ट भेजा, तो उसने दो दिन बाद रिक्वेस्ट एक्सेप्ट किया।

तब मैंने उसको मैसेज किया। वो मुझे नही पहचानी तो मैंने बताया कि मैं कौन हूँ। तब उसने मुझे पहचान लिया और उस दिन के बाद से हम दोनों की बात होने लगी थी। कुछ ही दिन में मैंने उससे नंबर ले लिया। फिर मैंने उससे रोज कॉल पे बात करने लगा था। उसका पहले से बॉयफ्रैंड था तो मैं उसे गर्लफ्रैंड नही बना सकता था। लेकिन वो मेरी बहोत अच्छी फ्रेंड बन गयी थी। वो मुझसे बात करते हुए बहोत क्लोज हो गई थी।

एक दिन मैंने बातो बायो में बताया कि मैं अपनी गर्लफ्रैंड को बहोत मिस करता हु। तो वो भी बतायी की मैं भी अपने बॉयफ्रेंड को मिस करती हूं। तो मैंने सीधा कह दिया कि मैं अपनी गर्लफ्रैंड के साथ जो टाइम स्पेंड किया है वो याद आते है। वो राते जो हमने साथ मे गुज़रे है। तो वो बोली इसका मतलब तुम दोनों के बीच सब कुछ हो गया है। मैंने बिना सरमाये हा बोला। जब मैंने उससे पूछा तो बोली नही मैं तो कुछ नही की हु। लेकिन वो जुठ बोल रही थी क्योंकि उसके सरीर को देख के लगता था कि वो सेक्स कर चुकी है।

उसकी गण्ड पीछे से उभरी हुई थी। मेरे बहोत तंग करने पे उसने बताया की हा उसने भी एक बार किया है। लेकिन अभी भी वो जुठ बोल रही थी। मैं उससे पूछा की तो अब मन नही करता है। वो समाते हुए बोली हा करता तो है लेकिन यहां तो कुछ नही हो सकता है। वो बोली तुम्हे भी तो मन करता होगा। मैं बोला हा यार मेरा तो बहोत मन करता है। मैं हर 2 दिन पे कर लिया करता था। वो हँसने लगी, तभी मैं बोला अगर तुम चाहो तो मैं तुम्हरी कमी और तुम मेरी पूरी कर सकती हो।

वो बोली क्या रहे हो तुम कुछ भी बोल दिए और वो बहोत गुस्सा हो गयो और कॉल कट दिया। उसके बाद मैंने बहोत कॉल किया मैसेज किया लेकिन कोई रेस्पांस नही दे रही थी। फिर मैं छत पे जेक उसे कान पकड़ के सॉरी बोला तब जाके वो मानी। तब उसने कॉल किया और बोला कि तुम जो बोल रहे थे वो कभी पॉसिबल नही है। मैंने कहा अगर तुम चाहो तो सब पॉसिबल है। वो बोली अच्छा कैसे, तब मैंने कहा कि मेरे घर आते जाते रहती हो। तुम अपने में मेरे घर के बहाने आ जाना। चुपके से तुम मेरे रूम में आ जाना। मेरे रूम में कोई तंग करने नही आता है। वो बोली नही यार मुझे बहोत डर लगता है। मैं ये सब नही कर सकती और कॉल कट दिया।

अब वो कभी कभी हमारे घर आती थी तो मैं उसे किस कर लेता था। इस बात से उसे कोई दिकत नही होती थी। मेरी हिम्मत बढ़ती गयी तो कभी उसकी चुचियो को दबा देता था। तो कभी चूत पे हाथ रख देता था। मेरा ये सब करना उसे अच्छा लगया था। एक दिन तो मैंने उसके चुचियो के दरसन भी कर लिए थे। वो अपनी न्यूड फोटो भी मुझे भेजी थी।

लेकिन कहते है न कि आपको किसी चीज़ की तलब हो तो आपको मिल ही जाती है। जैसे कि मुझे लॉकडौन में चूत मिल गयी थी। हुआ यूं कि एक दिन उसके मम्मी औऱ पापा किसी काम को लेके गांव जाने वाले थे। क्योंकि लॉकडौन के कारण बहोत दिनों से गांव नही गए थे। उस दिन उसके मम्मी पापा जाने वाले थे। उसने मुझे ये बात बतायी तो मुझे त बहोत ख़ुशी हुइ की इतने दिनों के बाद चूत मिलने वाली है।

उसके मम्मी पापा सुबह सुबह निकल गए और शाम को आने वाले थे। मैंने भी अपने घर मे बोल दिया कि मैं दोस्त के यहाँ जा रहा हु शाम तक आऊंगा। और फिर मैं मुस्कान के घर पाउच गया। मैं रूम में जाते ही हग कर लिया और उसे चुम लिया। वो बोली यही करोगे की रूम में चले तो मैं उसके साथ रूम में गया। वो मेरे लिए जूस लेके आयी।

मैंने उसे बेड पे धकेल दिया और उसके ऊपर खुद पारा। मेरे अंदर तो महीनों की आग लगी हुई थी। जो आज मिटने वाली थी। मैं उसके पूरे बदन को चूमने लगा। वो मेरे साथ दे रही थी। जो आग मेरे अंदर थी वही आग उसके अंदर थी। मैंने उसकी टीशर्ट उतार दी और उसकी स्कर्ट को खोल के फेक दिया। वो अंदर न ब्रा पहनी थी न ही पेंटी मैंने भी अपना सारा कपड़ा उतार दिया। मैं उसे इस तरह पहली बार देख रहा था। उसे देख के मेरा लण्ड एकदम कड़क हो गया था।

मैंने उसकी चूत पे हाथ लगया और वो सिहर गयी। उसके मुह ऊह ऊह की आयी। मैंने अपना लण्ड उसकी मुह में डाला और मैं उसकी चूत चुसने लगा। हम दोनों 69 में आ गए थे। वो एकदम प्रोफेशनल की तरह मेरा लण्ड चूस रही थी। वो इतने जोर से मेरा लण्ड चूस रही थी कि मुझे कंट्रोल नही हुआ और मैं उसकी मुह में बह गया। वो बोली ये क्या कर दिया बाहर नही गिरा सकते थे। फिर वो अपना मुह धो के आयी तबतक मैं जूस पी रहा था।

अब वो आयी तो मैं उसके बूबस को दबाने लगा। कुछ ही देर में मेरा लण्ड खरा हो गया। मैं अभी उसकी चूत मारने की मूड में था। मैंने उसकी तांग को फैलाया और अपना लण्ड उनकी चूत में धकेल दिया। उसके मुह से आह निकली उसे हल्का दर्द हुआ लेकिन वो चुदाई का मज़ा ले रही थी। मैं अपने पूरे जोश के साथ उसे पेलने लगा। वो बस आह आह किया जा रही थी। उसकि टांगे मेरी कंधे पे थी मैं जोर जोर से धका मार रहा था। कुछ देर बाद मेरा निकलने वाला था तो मैं लण्ड निकल के अपना माल बाहर गिरा दिया। तबतक वो भी झर चुकी थी।

कुछ देर हम दोनों लिप्त के सोये रहे थोरे देर में मेरा लण्ड फिर खरा हो गया था। अब मैंने मुस्कान को कुतिया बना दिया और पीछे से उसकी चूत मारने लगा। मेरे हर एक झटके से उसका मुह खुल जाता था। मैं तो उसकी कमर पकड़ के पेल रहा था। उस दिन हम दोनों ने अलग अलग पोज़ में बहोत बार चुदाई की और एक दूसरे की अन्तर्वासना मिटाई।

दोस्तों मई आशा करता हु की आप सभी को ये मुस्कान की चुदाई लॉकडाउन में पसंद आयी होगी. अगर आपको ये अन्तर्वासना स्टोरी मज़ेदार लगा तो आप एक प्यारा सा कमेंट हमे जरूर करे.

Some Lockdown me Chudai Story

Leave a Comment